विश्व जनसंख्या दिवस शायरी: विश्व जनसंख्या दिवस यानी की वर्ल्ड पापुलेशन डे प्रत्येक वर्ष 11 जुलाई को पुरे विश्वभर में मनाया जाता है | इस दिन की शुरुआत सयुंक्त राष्ट्र द्वारा 11 जुलाई 1989 को की गयी थी इस दिन का एहम उद्देश्य लोगो को बढ़ती जनसंख्या से होने वाले दुष्परिणामों पर प्रकाश डालना है और साथ ही साथ लोगों को इसके प्रति जागरूक किया जाता है, क्योंकि जनसंख्या पर नियंत्रण रखना जरूरी है। आज में आपके साथ यह पोस्ट “World Population Day Shayari 2019: विश्व जनसंख्या दिवस शायरी 2019” शेयर कर रहा हु जिसे आप ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ शेयर करे और उन्हें जनसंख्या वृद्धि से होने वाले नुकसान के प्रति जागरूक करे

विश्व जनसंख्या दिवस शायरी

कौन कहता है
दुनिया की जनसंख्या सात अरब है
मुझे तो लगती यह सात सौ अरब है।

क्योंकि समस्याएं मात्रात्मक से ज्यादा
अब गुणात्मक हो रही है
दिखते हैं यहाँ शरीर ही शरीर
आत्माएं सबकी कहीं खो रही है।

देर-सबेर बढ़ती जनसंख्या पर
लगाम लग भी जायेगी
पर मुखौटे बदलने की यह प्रवृत्ति
तो दिनों-दिन बढ़ती ही जायेगी।

विश्व जनसंख्या दिवस शायरी 2019

World Population Day Shayari 2019: विश्व जनसंख्या दिवस शायरी 2019

जनसंख्या जो ये तेजी से बढ़ रही
बहुत से समस्याए पैदा कर रही
हमें इन समस्यायों से निजात पाना होगा
जनसंख्या के बढ़ने पे अंकुश लगाना होगा
हमें कुछ तो कदम उठाना होगा

जनसंख्या जो ये तेजी से बढ़ रही
बहुत से समस्याए पैदा कर रही
भ्रष्टाचार तेजी से बढ़ रहा
जनता को न्याय नहीं मिल रहा
जंगल काटे जाते है
पेड़ न कोई लगाते है

World Population Day Shayari

 

बेरोजगारी हताशा ला रही
आर्थिक संकट की चिंता खाए जा रही
महंगाई तेजी से बढ़ रही
आम लोगो का जीना मुश्किल कर रही

बढ़ती आबादी है बर्बादी,
इसे रोकोगे तो होगी खुशाली

जनसंख्या पर रोक लगाओ,
विकास की धार बढाओ

World Population Day Shayari 2019

चाहे मुन्ना चाहे मुनिया,
एकही बच्चे की प्यारी दुनिया

कम बच्चे छोटा परिवार,
यही हैं प्रगति का आधार.

जनसंख्या नियन्त्रण के लिए
कड़ा क़ानून होना चाहिए,
न मानने वालों को कड़ी सजा हो
और पूरे देश को मालूम होना चाहिए

Happy World Population Day Shayari

बेरोजगारी, अशिक्षा और बीमरी से होगा बुरा हाल,
जनसंख्या वृद्धि पर जब तक नहीं लगेगा लगाम.

हर देश को अब कड़े क़ानून लाना चाहिए,
देश की जनता को हर तरह से समझाना चाहिए,
बढ़ती जनसंख्या पर रोक लगाना चाहिए,
दुनिया को बर्बाद होने से बचाना चाहिए.

वर्ल्ड पॉपुलेशन डे शायरी इन हिंदी

World Population Day Shayari 2019: विश्व जनसंख्या दिवस शायरी 2019

बिना सोचे-समझे इस कदर, जनसँख्या को बढ़ाओगे,
तो एक दिन बिना भोजन और पानी के मर जाओगे.

यदि इतनी तेजी से जनसंख्या को बढ़ायेंगे,
बहुत से समस्याओं में खुद को घिरा पायेंगे

एक दिन सबकों करना पड़ेगा स्वीकार,
बढ़ती जनसंख्या है मानवता की हार.

वर्ल्ड पॉपुलेशन डे शायरी

हर देश को अब कड़े क़ानून लाना चाहिए,
देश की जनता को हर तरह से समझाना चाहिए,
बढ़ती जनसंख्या पर रोक लगाना चाहिए,
दुनिया को बर्बाद होने से बचाना चाहिए

जनसंख्या बढ़ती गई,यूँ ही बेतरतीब.
तो मानव को अन्न-जल,होगा नहीं नसीब.
जनसंख्या की वृद्धि के,निकले ये परिणाम.
जीवन के हर मोड़ पर, कलह और कुहराम.

वर्ल्ड पॉपुलेशन डे हिंदी शायरी

अगर आप विश्व जनसंख्या दिवस शायरी, विश्व जनसंख्या दिवस शायरी २०१९, विश्व जनसंख्या दिवस पर शायरी, वर्ल्ड पॉपुलेशन डे शायरी, वर्ल्ड पॉपुलेशन डे शायरी इन हिंदी, वर्ल्ड पॉपुलेशन डे शायरी हिंदी में, World Population Day Shayari, World Population Day Shayari 2019, World Population Day Shayari in hindi , Amit Sharma Poetry Agra आदि यह से प्राप्त कर सकते है

जनसँख्या पार कर गई अरबों की गिनती ।
एक घर में जो दो बच्चे ॥
तभी तो एक वह कुशल परिवार ।
नहीं कभी दुखी रहेगें माता- पिता और बच्चे ॥
बच्चे लिखकर होगें सच्चे ।
जनसंख्या में क्यों हो रही है वृद्धि ॥

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *