स्वच्छता दिवस पर निबंध 2018: स्वच्छता का अर्थ है अपने वातावरण एवं स्वयं को हानिकारक तत्वों (गंदगी, कीटाणु आदि) से बचाना तथा शरीर के भीतर एवं बाहर उत्पन्न हुए मल को उचित समय पर दूर करना| वास्तव में, स्वच्छता जीवन में अत्यंत आवश्यक है। प्रत्येक मनुष्य को चाहिए कि वह सदैव स्वच्छता से रहे।जैसा कि हम सभी जानते हैं कि श्री नरेंद्र मोदी हमारे देश के प्रधान मंत्री ने स्वच्छता दिवस का शुभारंभ किया है ताकि सभी जगहों पर लोगों को स्वच्छता और सफाई के उच्च स्तर को बनाए रखने के लिए पूरे भारत में बहुत उत्साह के साथ अभियान चलाया जा सके चाहे फिर वह हमारे घर, कार्यस्थल, सार्वजनिक स्थान, सड़कें आदि क्यों न हो।

स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा चलाये जाने वाला एक राष्ट्रव्यापी सफाई अभियान है जिसकी शुरुवात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा महात्मा गांधी के 145 वें जन्मदिन के अवसर पर 2 अक्टूबर 2014 को की गया था| राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भारत की स्वतंत्रता से पहले अपने समय के दौरान “स्वच्छता आजादी से अधिक महत्वपूर्ण है” कहा था। वे भारत के बुरे और गन्दी स्थिति से अच्छी तरह परिचित थे|

उन्होंने भारत के लोगों को साफ-सफाई और स्वच्छता के बारे और इससे अपने दैनिक जीवन में शामिल करने पे बहोत जोर दिया था। यह अभियान पूरे भारत में सफाई के उद्देश्य को पूरा करने के लिए शुरू किया गया है। प्रधानमंत्री ने लोगो से अपील की है की वो स्वच्छ भारत मिशन से जुड़े और अन्य लोगो को भी इससे जुड़ने की प्रेरित करे ताकि हमारा देश दुनिया का सबसे अच्छा और स्वच्छ देश बन सके| इस अभियान की शुरुवात स्वयं नरेंद्र मोदी ने सड़क की सफाई कर के की थी|

स्वच्छता दिवस पर निबंध 2018

अगर आप स्वच्छता दिवस पर निबंध २०१८, स्वच्छता दिवस पर निबंध इन हिंदी, Swwachta Diwas Par Essay in Hindi, Swwachta Diwas Par Essay in Hindi Language, Swwachta Diwas Par Essay in Hindi 2018, World Ozone Day 2018 Speech and Essay, महात्मा गांधी पर निबंध 2018स्वच्छता दिवस पर निबंध इन हिंदी लैंग्वेज, स्वच्छता दिवस पर निबंध कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए ढूंढ रहे है तो यह से प्राप्त कर सकते है|

इस अभियान की शुरुआत के दिन प्रधानमंत्री ने कला, खेल और साहित्य से जुड़े 9 हस्तियों को नामित किया अपने-अपने क्षेत्रों में इस मिशन को आगे बढ़ाने के लिये। स्कूल कॉलेजों ने भी अपने तरीके से कई सारे कार्यक्रम आयोजित कर इसमें भाग लिया। प्रधानमंत्री मोदी ने उन नौ नामित लोगों से आग्रह किया कि वो अपनी तरफ से नौ व्यक्ति चुने जो भारत स्वच्छता अभियान में पूरी इच्छाशक्ति से भाग ले और इस तरह एक पूरी मानव श्रृंखला का निर्माण हो जिसमें देश के हर कोने से हर भारतीय शामिल हो और इसे राष्ट्र मिशन के रुप में आगे बढ़ाये।

Swwachta Diwas Par Essay in Hindi 2018

इन 9 हस्तियों में अनिल अंबानी, सचिन तेंदुलकर, सलमान खान, प्रियंका चोपड़ा, बाबा रामदेव, कमल हासन, मृदुला सिन्हा, शशि थरूर और शाजिया इल्मी शामिल है| इसके अलावा उन्होंने टीवी सीरियल “तारक मेहता का उल्टा चश्मा” की पूरी टीम को भी नॉमिनेट किया है| उन्होंने कहा कि यह सभी लोग स्वच्छता अभियान के लिए काम करें| इस तरह स्वच्छता अभियान ना रहकर एक आंदोलन बन जाएगा उन्होंने कहा यह दायित्व सिर्फ सफाई कर्मचारियों का नहीं है सभी 125 करोड़ भारतीयों का है|

स्वच्छता दिवस पर निबंध 2018 - Swwachta Diwas Par Essay in Hindi 2018

स्वच्छ भारत अभियान क्या है ?

स्वच्छ भारत अभियान एक राष्ट्रीय स्वच्छता मुहिम है जो भारत सरकार द्वारा स्थापित किया गया है, इसके तहत 4041 सांविधिक नगरों के सड़क, पैदल मार्ग और अन्य कई स्थल आते है। ये एक बड़ा आंदोलन है जिसके तहत भारत को 2019 तक पूर्णंत: स्वच्छ बनाना है। इसमें स्वस्थ और सुखी जीवन के लिये महात्मा गाँधी के स्वच्छ भारत के सपने को आगे बढ़ाया गया है। इस मिशन को 2 अक्टूबर 2014(145 वीं जन्म दिवस) को बापू के जन्म दिवस के शुभ अवसर पर आरंभ किया गया है और 2 अक्टूबर 2019 (बापू के 150वीं जन्म दिवस ) तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है । भारत के शहरी विकास तथा पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय के तहत इस अभियान को ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में लागू किया गया है।

स्वच्छता क्यों जरूरी है:

स्वच्छता हमारे देश के लिए जरूरी है भारत देश जो कभी किसी जमाने में सोने की चिड़िया कहा जाता था, जो कि अपने वैभव और संस्कृति के लिए जाना जाता था उस समय भारत में  हर तरह की सुविधा उपलब्ध है और उस समय हमारा देश विकसित देशों की श्रेणी में आता था

लेकिन समय के बदलाव के चलते हमारे देश पर कई बाहरी ताकतों ने राज किया जिससे हमारी देश की हालत खराब हो गई। इसलिए हमारे देश के लिए स्वच्छता जरूरी है

हमारे स्वस्थ जीवन शैली और जीवन के स्तर को बनाए रखने के लिये स्वच्छता बहुत जरुरी है।स्वच्छता एक ऐसा कार्य नहीं है जो हमें दबाव में करना चाहिये। सफाई केवल देश के लिए ही आवश्यक नहीं है हमारे लिए भी आवश्यक है।  ये एक अच्छी आदत और स्वस्थ तरीका है हमारे अच्छे स्वस्थ जीवन के लिये। अच्छे स्वास्थ्य के लिये सभी प्रकार की स्वच्छता बहुत जरुरी है चाहे वो व्यक्तिगत हो, अपने आसपास की, पर्यावरण की, पालतु जानवरों की या काम करने की जगह (स्कूल, कॉलेज आदि) हो। यह केवल हमारी पसंद ही नहीं बल्कि इंसान होने के नाते हमारी ज़िम्मेदारी भी है।

स्वच्छता अभियान  का लक्ष्य :

स्वच्छता दिवस पर निबंध 2018 - Swwachta Diwas Par Essay in Hindi 2018

स्वच्छता अभियान  का लक्ष्य हैं :

  1. साल 2019 तक खुले में शौच को पूरी तरह से रोकना|
  2. साल 2019 तक सब के घर में पिने की पानी को उपलब्ध करना|
  3. सभी क्षेत्रों  के लोगों के जीवन शैली में सुधार लाना,उनके सोच -विचारों को बदलना|
  4. स्वच्छ भारत के लक्ष्य को पूरा करने हेतु सभी क्षत्रों में साफ़ सफाई के लिए लोगों को प्रेरित करना|
  5. सभी क्षेत्रों  में रास्ता और गली मोहल्ले को साफ़ करके ठोस और तरल कचरा का प्रबंध  ग्राम पंचायत द्वारा करना|
  6. समस्त क्षेत्रों के लोगों को साफ़ सफाई के बारे में जागरूख करना|
  7. प्रत्येक क्षेत्र में पारिस्थितिक सुरक्षा को प्रोत्साहित करना|

निष्कर्ष

इस तरह हम कह सकते है कि 2019 तक भारत को स्वच्छ और हराभरा बनाने के लिए स्वच्छ भारत अभियान एक योग्य कदम है। एक स्वस्थ्य देश और स्वस्थ्य समाज के लिए आवश्यक है कि उसके नागरिक स्वस्थ्य रहें तथा हर व्यवसाय में स्वच्छ हो।

8 thoughts on “स्वच्छता दिवस पर निबंध 2018 – Swwachta Diwas Par Essay in Hindi 2018

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *